कारोबारटॉप न्यूज़

15 महीने बाद सुधा उत्पादों की बढ़ी कीमत, 7 फरवरी से लागू होंगी नई दरें

पटना । 15 महीनों के बाद 7 फरवरी 2021 से दूध समेत सुधा के सभी उत्पाद महंगे हो जाएंगे। प्रति लीटर दूध की कीमत में औसतन 2 रुपए की वृद्धि की गई है। यह निर्णय कम्फेड की प्रोग्रामिंग कमेटी की बैठक में लिया गया है। इसके पहले सुधा दूध और अन्य उत्पादों की दरों में नवंबर, 2019 में वृद्धि की गई थी। 15 महीने बाद फिर से दाम में बढ़ोतरी की जा रही है। राहत की बात यह है कि सुधा की दही और टेट्रा पैक फ्लेवर्ड दूध की कीमत में वृद्धि नहीं की गई है।

जाने नई दर पहले क्या थी कीमत और अब कितने में मिलेगा,,,

फुल क्रीम दूध 50 रुपए प्रति लीटर फुल क्रीम दूध 52 रुपए प्रति लीटर ।
स्टैंडर्ड मिल्क 43 रुपए प्रति लीटर स्टैंडर्ड मिल्क 46 रुपए प्रति लीटर ।
गाय का दूध 41रुपए प्रति लीटर गाय का दूध 43 रुपए प्रति लीटर ।
टोंड मिल्क 40 रुपए प्रति लीटर टोंड मिल्क 41 रुपए प्रति लीटर ।
डबल टोंड मिल्क 35 रुपए प्रति लीटर डबल टोंड मिल्क 37 रुपए प्रति लीटर ।
स्पेशल दूध 38 रुपए प्रति लीटर स्पेशल दूध 40 रुपए प्रति लीटर ।
दूध के अलावा ये उत्पाद अब इस दाम में

घी 500 Ml पाउच 250
पनीर 200 ग्राम 70
मिल्क केक और पेड़ा 250 ग्राम 100
मक्खन 100 ग्राम 48
गुलाबजामुन 1kg 220
बालूशाही 1kg 220
रसगुल्ला 1kg 210
पशुपालकों को भी पहले से ज्यादा मिलेगी कीमत,,,,,

पशुपालकों को दी जाने वाली दर भी कम्फेड ने प्रति किलो 1.36 रुपए से 2.43 रुपए तक बढ़ा दी है। दूध उत्पादकों द्वारा लागत मूल्य में वृद्धि करने की लगातार मांग की जा रही थी। अलग-अलग फैट के दूध की नई कीमत तय की गई है, जिसका भुगतान अब पशुपालकों को किया जाएगा। पशुपालकों को नई दर 11 फरवरी से मिलेगी। पशुपालकों को अब 30.74 रुपए प्रति किलो से लेकर 39.57 रुपए किलो की दर से भुगतान किया जाएगा। साथ ही दूध के मूल्य का करीब 0.5 प्रतिशत समिति सचिव के मार्जिन में सशर्त वृद्धि की गई है।

इस वजह से बढ़ी कीमतें,,,,,
बिहार स्टेट मिल्क को-ऑपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड (कम्फेड) ने बताया है कि बिजली, पेट्रोलियम पदार्थों, पॉलिथीन, मानव बल आदि में खर्च में वृद्धि हुई है। साथ ही, पशुपालकों द्वारा भी इसकी मांग लगातार की जा रही थी कि उन्हें दिए जाने वाले दूध की दर बढ़ाई जाए। इसको लेकर अन्य सरकारी डेयरी ब्रांडों द्वारा दूध एवं उत्पादों की दरों में देश में वृद्धि पहले ही की जा चुकी है। कम्फेड के मुताबिक इसके मद्देनजर सुधा दूध की कीमतों में भी वृद्धि करनी पड़ी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button